OSGU poster competition in honor of the brave soldiers and toiling farmers

University Celebrated Foundation day 2021
University Celebrated Foundation day 2021Om Sterling Global University Organization foundation day was celebrated on12 December 2020
December 15, 2020
Regular classes started with Hawan, OSGU 2021
Regular classes started with Hawan, OSGU 2021
March 15, 2021
OSGU poster competition in honor of the brave soldiers and toiling farmers

OSGU poster competition in honor of the brave soldiers and toiling farmers manin banner

Om Sterling Global University awarded the winners of the poster competition organized by the university, by giving cash prizes and citations. Hon’ble Chancellor of OSGU, Dr. Punit Goyal awarded the prize to poster winner Ms Anju.

– ओम स्टर्लिंग ग्लोबल यूनिवर्सिटी ने पोस्टर स्पर्धा की विजेता को नकद राशि व प्रशस्ति-पत्र देकर किया पुरस्कृत

ओम स्टर्लिंग ग्लोबल यूनिवर्सिटी द्वारा आयोजित राष्ट्र स्तरीय ऑनलाइन पोस्टर स्पर्धा की विजेता अंजू को नकद राशि एवं प्रशस्ति पत्र देकर पुरस्कृत किया गया। ओएसजीयू परिसर में आयोजित सम्मान समारोह में विश्वविद्यालय के चांसलर डॉ. पुनीत गोयल, प्रो चांसलर डॉ. पूनम गोयल, वाइस चांसलर प्रो. एन. पी. कौशिक, प्रो वाइस चांसलर प्रो. अजय पोद्दार एवं रजिस्ट्रार डॉ. विनोद कुमार ने संयुक्त रूप यह पुरस्कार प्रदान किया। ‘जय जवान जय किसानÓ विषय पर आधारित इस स्पर्धा में देशभर से प्रतिभागियों ने शिरकत की। इस अवसर पर चांसलर डॉ. पुनीत गोयल ने कहा कि विद्यार्थियों में छिपी बहुमुखी प्रतिभा को सामने लाना ही ओएसजीयू का उद्देश्य है। इसलिए विश्वविद्यालय द्वारा समय-समय पर विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं। इस अवसर पर प्रो. चांसलर डॉ. पूनम गोयल ने पोस्टर स्पर्धा की विजेता अंजू को बधाई देते हुए कहा कि विद्यार्थी यदि सच्चे मन से कार्य करें तो वे अपने लक्ष्य को आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।
पोस्टर स्पर्धा की विजेता अंजू को 2100 रुपये नकद एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। इसी भांति द्वितीय विजेता को 1100 रुपये एवं तृतीय विजेता को 500 रुपये नकद राशि एवं प्रशस्ति-पत्र पुरस्कार स्वरूप दिए गए हैं। उल्लेखनीय है कि पोस्टर स्पर्धा में प्रतिभागियों ने वीर जवानों व मेहनतकश किसानों के विभिन्न आयामों को कैनवास पर बखूबी उकेरा था। किसी ने सीमा पर तैनात सैनिकों का चित्रण किया तो किसी ने खेत में फसल उपजाते किसान की तस्वीर को जीवंत कर दिया।